भारत मंच ने महाकाल मंदिर प्रशासक को ज्ञापन सौंपा

उज्जैन। महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति ने निर्णय लिया था कि तीन दिन ही कावड़ यात्रियों को भस्मारती द्वार से जल चढ़ाने की व्यवस्था की जाएगी। शेष दिनों में कावड़ियों को आम श्रद्धालुओं के साथ ही प्रवेश दिया जाएगा। स्वर्णिम भारत मंच द्वारा ज्ञापन देकर मांग की गई है कि सभी दिन श्रावण माह में कावड़ियों को जल चढ़ाने की व्यवस्था भस्मारती द्वार से की जाए, जिससे छोटे-छोटे दल के गु्रप में आने वाले कावड़ियों को सुविधा होगी। ज्ञापन देने में दिनेश श्रीवास्तव, केशरसिंह पटेल, अभय नरवरिया, जैकी ठाकुर, चेतन श्रीवास्तव, पीयूष चौहान, दिनेश व्यास ने सहायक प्रशासक दिलीप गुरुड़ को कावड़ यात्रियों व कलश लेकर जल चढ़ाने वाले श्रद्धालुओं के लिए सुलभ व्यवस्था करने की मांग की है।

Leave a Comment